अगर आप ज़ुल्म ज़्यादती के हुए हो शिकार तो ख़ाकी पर करो एहतबार!

मुक़ामी थानों की पुलिस अगर आप की मदद नही कर रही है तो मायुश नही होइएगा अपने जिले के कप्तान SP, DIG, IG से राफ़ता क़ायम कर मदद की गुहार लगाइयेगा!अगर यहां भी इंसाफ न मिले तो मुस्लिम मददगाह के दरवाज़े पर इंसाफ के लिए दस्तक़ देदीजियेगा !!

सागर ज़ोन

सागर





दमोह



पन्ना





छतरपुर



टीकमगड़