السلام علیکم

ज़िन्दगी में अक्सर कुछ गलतियां जाने अनजाने में हम इंसानो से ऐसी हो जाती है जिन गलतियों के सुधार के लिए रास्ते नज़र नही आते और कई मुसीबतें भी बिन बुलाए मेहमानों की तरह हमारी ज़िन्दगी में आ खड़ी हो जाती है फिर न आप किसी से उसका ज़िक्र कर पाते हो न हल निकाल पाते हो ऐसी परेशानियों में अगर हो आप मुब्तला तो बेफ़िक्र हो जाइए हम आप के साथ आप की परेशानियों का मिलकर मुक़ाबला करेंगे। बस आप हम से अपनी उलझने शेयर कीजिए हम उसे सुलझाने की कोशिशें करेंगे!

मशवरे में खैर हैं इंशाअल्लाह हमारी राय से हल निकलेगा और आप का दिल भी हल्का होगा!



मशवरा:Ali hasan apki fon aih

2020-04-28 05:52:45


Ask a question.

मशवरा : ....

मशवरा : My wife told me that a gas canister ran out at home and has to be changed, but I am not at home. Right now my residence ....

मशवरा : A well known and rich buisenessman and his team are building a nightclub in our society/community premises in the capita....

मशवरा : One of my friend is a Muslim who doesn’t drinks alcohol and perform all the prayers of five times but the place where ....